ढोल ढमाऊँ मशक रण सिंघा के साथ ठेट गड़वाली मनाण व चोंफेला झुमेलो कई अन्य पहाड़ी नृत्यों का लुत्फ उठाने के लिए 26 नवम्बर को देहरादून में आप सब यहाँ आमन्त्रित हैं।

देवभूमि “ईगास” महोत्सव संस्था के द्वारा प्रेस क्लब मे़ देवभूमि ईगास महोत्सव संस्था 2020 द्बारा आगामी 26-नवम्बर क़ो पर्वतीय सांस्कृतिक उतराखंड का पावन पर्व ईगास (दीप दीपावली/बूढ़ी दिवाली) क़ा के आयोजन क़ो लेकर एक बैठक क़ा आयोजन किया गय़ा। बैठक क़ी अध्यक्षता लक्ष्मण सिंह रावत द्बारा किया गय़ा एवं संचालन सह सचिव प्रदीप कुकरेती ने किया। लक्ष्मी प्रसाद थपलियाल ने कहा क़ि कल से ही इसके प्रचार प्रसार के साथ ही निमंत्रण देने के कार्य प्रारम्भ हो जाऐगा।

आज बैठक मे़ कई सामाजिक व सांस्कृतिक संगठन के पदाधिकारी गणों ने शिरकत क़ी। संस्था के अध्यक्ष लक्ष्मण रावत ने कहा क़ि अपनी ईगास व भेलौ कार्यकम क़ो बेहतर बनाने के लिए सभी क़ा पारस्परिक सहयोग लिया जाऐगा औऱ हमारे देवभूमि के उत्पादो से बने व्यंजन के साथ अपने सांस्कृतिक वाध्य यंत्रो से भी इस उत्सव क़ो भव्य रूप मे़ प्रस्तुत किया जाऐगा।
बैठक मे़ उपस्तिथ सभी सज्जनों द्बारा क्रमवार एक आवाज मे़ अपनी सस्कृति क़ो बचाने औऱ नई पीढ़ी क़ो इसको नजदीक से जानने हेतु सुझाव दिये।
संस्था के सचिव पंडित राकेश पुरोहित द्बारा बताया गय़ा क़ि संस्था द्वारा दिनांक 26-नवम्बर दिन बृहस्पतिवार क़ो सायं 05-बजे से हरिद्वार बाय पास कुंजापुरी (अजयपुर खुर्द) मे़ DPM सो रूम के ठीक सामने देवोत्थानी एकादशी व उत्तराखंड के पारंपरिक उत्सव (ईगास”बग्वाल) सांस्कृतिक संध्या” (भैलो ईगास) का आयोजन किया जायेगा।
ईगास दीप मोहोत्स्व) का आयोजन किया जायेगा।
बृहस्पतिवार को देवोत्थानी एकादशी व उत्तराखंड के पारंपरिक उत्सव (ईगास”बग्वाल) सांस्कृतिक संध्या” (भैलो ईगास) का आयोजन किया जा रहा है।
इस अवसर पर उत्तराखंडी परम्परा से जुड़े अनेक सास्कृतिक कार्यक्रम मे़ गीत संगीत भी होगा। जिसमे लगभग विलुप्त हो चुकी भैलो बग्वाल प्रमुख रहेगी। इसके अतिरिक्त ढोल ढमाऊँ मशक रण सिंघा के साथ ठेट गड़वाली मनाण व चोंफेला झुमेलो कई अन्य पहाड़ी नृत्यों का भी लुत्फ उठाया जा सकता है। जो कि उत्तराखंड की विरासत व सांस्कृतिक धरोहर को संजोने, संवारने व पुनर्जीवित करने में मील का पत्थर साबित होगी।
आज बैठक मे़ विशेष रूप से संस्था के अध्यक्ष लक्ष्मण सिंह रावत , सचिव राकेश पुरोहित , कोषाध्यक्ष राजेश सिंह बिष्ट , उपाध्यक्ष लक्ष्मी प्रसाद थपलियाल , सह सचिव प्रदीप कुकरेती , विशेष सचिव विरेन्द्र रावत , पुष्कर नेगी , नरेन्द्र रतूड़ी , पी सी थपलियाल , भावना पाण्डे , विजय उनियाल , मनोज ध्यानी , पुरुषोत्तम भट्ट , शेर सिंह नेगी , सुभाष रतूड़ी , संजय कुमोला , संजय थपलियाल , जितमणी पैन्यूली , प्रमिला रावत आदि मौजूद रहे।

Spread the love

You may have missed