एक कहावत है – जैसी करनी, वैसी भरनी ।

अब धोनी के पहले शिकार दादा ऊर्फ सौरव गांगुली का बयान आया है और गांगुली ने साफ कर दिया है कि धोनी जबरदस्ती अपनी टांग टीम इंडिया मे दिए हुए हैं, अब ये वो भी जानते हैं और हम भी कि अब उनका टाइम जा चुका है और टा-टा कहने का वक्त आ गया है, लेकिन वो रिटायरमेंट की बात नहीं कबूल कर रहे, ये भी नहीं बता रहे कि कब तक खेलना चाहते हैं और ये भी नहीं बता रहे कि क्यों खेलना चाहते हैं?

गांगुली धोनी के पीछे हाथ धोकर नहीं बल्कि नहा-धोकर पड़ गए हैं और जब तक वो धोनी को टीम से बाहर नहीं देख लेते वो चैन की सांस नहीं लेंगे। गांगुली ने मीडिया के सामने धोनी से पांच सवाल किए हैं और कहा है कि अगर धोनी इनका सवाल दे दें तो वो टीम में वापसी कर सकते हैं ?

पहला सवाल – क्या उनकी जगह किसी युवा को जगह देना गलत है?

दूसरा सवाल – अगर धोनी अभी भी खेलना चाहते हैं तो उन्होंने अपने समय में सीनियर्स को बाहर क्यों किया था?

तीसरा सवाल – धोनी अपनी पिछली परफॉर्मेंसिस के बूते खुद को टीम के लायक समझते हैं?

चौथा सवाल – क्या उम्र के लिहाज़ से रिटायरमेंट की उम्र नहीं है?

और पांचवा सवाल – किस वजह से सेलेक्टर्स धोनी को सेलेक्ट करें ?

इन पांच सवालों के साथ गांगुली ने धोनी के लिए चुनौती खड़ी कर दी है। धोनी जहां एक ओर छुट्टियां इंजॉय कर रहे हैं. वहीं, दूसरी ओर उनकी टीम में वापसी दूर होती जा रही है। कुछ लोगों ने यहां तक कह दिया है कि धोनी के लिए यही सही रहेगा कि वह खुद रिटायमेंट ले लें वरना उनका भी वही हाल होगा, जो सहवाग का हुआ था।

Spread the love