टिहरी डीएम फिर एक्सन में, टेंडर पत्रावलियां की तलब, जिम्मेदार अधिकारियों का स्पष्टीकरण।

नई टिहरी। डीएम सोनिका ने वन भूमि हस्तांतरण और ऑनलाईन किए जाने की मामलों की समीक्षा करते हुए संबंधित विभागों से समन्वय बनाकर कार्य करने के निर्देश दिए हैं। कहा कि लंबित प्रस्तावों के ऑनलाईन किए जाने की प्रक्रिया में तेजी लाई जाए। शनिवार को जिला सभागार में आयोजित बैठक में डीएम सोनिका ने चंबा क्षेत्र की योजनाओं के लिए भूमि हस्तांतरण प्रक्रिया ऑनलाईन न किये जाने पर गहरी नाराजगी जताई। उन्होंने वन विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिए कि योजनाओं के निर्माण के लिये वन भूमि के हस्तान्तरण में मानवीय दृष्टिकोण को अवश्य ध्यान में रखा जाएं ताकि जरूरत के अनुसार निर्माण कार्य पूरा किया जा सके। डीएम ने बैठक में सूचना देने के बावजूद उपस्थित न होने पर डीएफओ नरेंद्रनगर और मसूरी का स्पष्टीकरण तलब करते हुए एडीएम शिवचरण द्विवेदी को दोनांे अधिकारियांे के खिलाफ वन संरक्षक भागीरथी वृत को पत्र लिखने के निर्देश दिए। डीएम ने कहा कि वन भूमि हस्तांतरण संबंधी बैठक एक माह में दो बार आहुत की जाएगी। इससे पूर्व उन्हांेने मुख्यमंत्री घोषणा के अनुपालन में निर्माण विभागों की बैठक ली। लोक निर्माण विभाग कीर्तिनगर के निविदा कार्यों में शिकायत और संदेह होने पर उन्होंने ईई को सात सिंतबर को इस वित्तीय वर्ष की सभी पत्रावली तलब करने के निर्देश् दिए। कहा कि जनहित के लिए अधिकारी कार्य करें। बैठक में बिना बताए अनुपस्थित रहने पर उन्होंने ईई लोनिवि नरेंद्रनगर आरिफ खान का भी स्पष्टीकरण तलब किया। डीएम ने नरेंद्रनगर में ऑडिटोरियम निर्माण और पूल्ड आवास मरम्मत के लिए जरूरी निर्देश दिए। वहीं मुनिकीरेती में हर्बल गार्डन, तपोवन में अतिक्रमण हटाने के निर्देश भी दिए। घनसाली में ट्रेचिंग ग्राउंड, लंबगांव में नगर पंचायत भवन निर्माण की भी उन्होंने समीक्षा की। भासौं-पौड़ीखाल मोटर मार्ग पर कार्य शुरू करने सहित ढाबसौड़ मार्ग की प्रगति भी जाननी चाहिए। कहा कि अगली बैठक में जो भी दिशा-निर्देश सीएम घोषणाओं के अनुपालन के लिए दिए हैं वह पूरा किए जांए। इस अवसर एडीएम शिवचरण द्विवेदी, डीडीओ आनंद भाकुनी, डीईओ माध्यमिक एसपी सेमवाल, ईई गौरव थपलियाल आदि मौजूद रहे।

Spread the love