पुलिस नहीं सुलझा पाई मौत की गुत्थी, दो महीने बाद कब्र से निकाला गया छात्रा का शव

पुलिस नहीं सुलझा पाई मौत की गुत्थी, दो महीने बाद कब्र से निकाला गया छात्रा का शव

ग्रेटर नोएडा के दनकौर थाना क्षेत्र में एक छात्रा की मौत के दो महीने बाद उत्तर प्रदेश की पुलिस ने उसके शव को कब्र से बाहर निकाला और पोस्टमार्टम के लिए भेजा. आरोप है कि छात्रा ने एक मनचले से परेशान होकर आत्महत्या कर ली थी.

कब्र से निकला छात्रा का शव (तस्वीर- तनसीम हैदर)

ग्रेटर नोएडा में उत्तर प्रदेश पुलिस ने एक छात्रा की हत्या के मामले को सुलझाने के लिए दो महीने बाद उसके शव को कब्र से बाहर निकाला है. आरोप है कि छात्रा ने मनचले युवक से तंग आकर आत्महत्या कर ली थी. जानकारी के मुताबिक छात्रा ने सल्फास की गोली खा ली थी, जिसके बाद उसकी मौत हो गई थी. मामला ग्रेटर नोएडा के दनकौर थाना क्षेत्र का है.

छात्रा की मौत के बाद उसके परिवार के लोगों ने उसके शव को दफना दिया था और आरोपी के खिलाफ पुलिस में मुकदमा भी दर्ज कराया था. हालांकि, इस मामले में पुलिस के किसी नतीजे तक नहीं पहुंच पाने पर परिवार ने दोबारा शिकायत की. जिसके बाद पुलिस ने मामले की गुत्थी सुलझाने के लिए अधिकारी के आदेश पर मजिस्ट्रेट की मौजूदगी में छात्रा के शव को कब्र से खोदकर बाहर निकाला और उसे पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया.

मृतका छात्रा के परिजनों के मुताबिक छात्रा ने दो महीने पहले सल्फास की गोली खा ली थी, जिसके बाद उसे अस्पताल में भर्ती कराया गया, जहां डॉक्टरों ने मृत घोषित कर दिया था. प्रेमपुरी मोहल्ली की निवासी छात्रा बीए फर्स्ट ईयर में पढ़ती थी. उसे दफनाने के कई दिनों बाद छात्रा के किताब से एक सुसाइड नोट मिला, जिससे परिवार में अफरा-तफरी मच गई.

इस सुसाइड नोट में छात्रा ने एक मनचले पर प्रताड़ित करने का आरोप लगाया था. मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक मनचला छात्रा को कॉलेज जाते वक्त परेशान करता था. यही नहीं, वह छात्रा से गलत संबंध बनाने के लिए भी कई बार कह चुका था और मना करने पर बदनाम करने की धमकी दी थी.

जानकारी के मुताबिक मनचले ने जब छात्रा से छेड़छाड़ की तो यह पूरी वारदात गली में लगे सीसीटीवी में कैद हो गई. इसके बाद छात्रा को इस बात का डर सताने लगा कि कहीं उसके परिवार तक यह बात न पहुंच जाए. उसे डर था कि ऐसा हुआ तो उसकी और परिवार की भी बदनामी होगी. यही कारण रहा कि छात्रा ने आत्महत्या कर ली. मामले में आरोपि सोनू को पुलिस गिरफ्तार करके पहले ही जेल भेज चुकी है. अब पोस्टमार्टम रिपोर्ट का इंतजार है.

Spread the love