केदारनाथ हाई-वे बंद, बारिश के कारण जगह-जगह भूस्खलन

रुद्रप्रयाग। पहाड़ों में बारिश और भूस्खलन का सिलसिला जारी है। केदारनाथ हाई-वे पर बारिश के कारण जगह-जगह भूस्खलन हो रहा है। इसकी वजह से केदारनाथ हाई-वे सोमवार रात से बंद है। केदारनाथ यात्रा भी बारिश के कारण बुरी तरह से प्रभावित हो गई है।

बारिश के कारण आम जन-जीवन अस्त-व्यस्त हो गया है। केदारनाथ हाई-वे के जगह-जगह बंद होने से हजारों यात्री भी हाई-वे पर फंसे हुये हैं। रात से हजारों यात्री हाई-वे खुलने का इंतजार कर रहे हैं। केदारनाथ हाई-वे बांसबाड़ा, रामपुर, फाटा, रैल, डोलिया देवी, गबनी गांव में कल रात से बंद हो रखा है। यहां पर लगातार पहाड़ी से मलबा और भूस्खलन गिर रहा है। हालांकि हाई-वे को खोलने का प्रयास तो किया जा रहा है, लेकिन पहाड़ी से लगातार हो रहे भूस्खलन से हाई-वे खोलने में दिक्कतें आ रही हैं।

आये दिन केदारनाथ हाई-वे के जगह-जगह बंद होने से केदारनाथ जाने वाले तीर्थ यात्रियों के साथ ही केदारघाटी की जनता की परेशारियां बढ़ गई हैं। केदारनाथ धाम के साथ ही केदारनाथ यात्रा पड़ावों पर सही समय पर आवश्यक सामग्री भी नहीं पहुंच पा रही है। कई बार तो यात्रियों को सड़क पर ही रात गुजारनी पड़ रही है।

दूसरी ओर ग्रामीण क्षेत्रों को जोड़ने वाले कई मोटरमार्ग भी बंद हो गये हैं। केदारनाथ हाई-वे के साथ ही गुप्तकाशी-मयाली मोटरमार्ग बंद होने से दिक्कतें और ज्यादा बढ़ गई हैं। कालीमठ घाटी के 12 गांवों को जोड़ने वाला गुप्तकाशी-कालीमठ मोटरमार्ग भी दो दिनों से बंद पड़ा है। ग्रामीण क्षेत्रों पर भी संकट के बादल मंडराने लगे हैं। ग्रामीण क्षेत्रो में भी अब समय पर आवश्यक वस्तुओं की आपूर्ति नहीं हो पा रही है।

Spread the love