डीएम ने अवैध से रूप से संचालित हॉस्पिटल को किया सीज।80 शिकायतें दर्ज हुई। 35 शिकायतों का मौके पर ही निस्तारण

नई टिहरी। डीएम सोनिका की अध्यक्षता में गजा में आयोजित तहसील दिवस में 80 शिकायतें दर्ज हुई। 35 शिकायतों का मौके पर ही निस्तारण किया गया। जबकि अवशेष शिकायतों के निस्तारण के लिए डीएम ने संबंधित अधिकारियों को निर्देश दिए। तहसील दिवस में अधिकांश शिकायतें समाज कल्याण पेंशन और शिक्षा व स्वास्थ्य से संबंधित रहीं।
मंगलवार को आयोजित तहसील दिवस में डीएम ने समाज कल्याण विभाग के अधिकारियों को कड़ी फटकार लगाई। उन्होंने गांवों में शिविर के माध्यम से पेंशन प्रकरण निस्तारित करने के निर्देश दिए। रणाकोट के मानसिक रोगी देव सिंह की स्थिति को देखते हुए डीएम ने सीएमओ को जरूरी कागजात बनाकर 23 अगस्त को देहरादून के कॉरनेशन हॉस्पिटल में इलाज के लिए भेजने को निर्देश दिए। उन्होंने रणाकोट प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र में जल्द डॉक्टर तैनात करने के निर्देश दिए। जीआईसी जाजल में दो साल से अंग्रेजी का प्रवक्ता न होने पर उन्होंने डीईओ माध्यमिक को वैकल्पिक व्यवस्था बनाने को कहा जीआईसी खरसाड़ा के छात्र-छात्राओं ने स्कूल के शौचालय में सफाई न होने, पेयजल व्यवस्था न होने, संस्कृत के छात्रों के लिए कक्षा-कक्ष न होने और स्कूल मार्ग पर बस सेवा न होने का मामला उठाया। डीएम ने स्कूल में सफाई के अलावा ईई जल संस्थान को वर्षा जल संचय टैंक का निर्माण एक माह के भीतर करने के निर्देश। खनाना पालकोट के लूथा सिंह, ज्ञान सिंह, पार्वती देवी, दुलारी देवी, विमला देवी, भाली पालकोट के चंदन सिंह, मयाणगांव के मगन सिंह, दिग्वाली पालकोट के सुंदर लाल, कोटी पालकोट की नीरा देवी, दिग्वाली के देवानंद ने वृद्धावस्था पेंशन, पालकोट के विक्रम सिंह, खनाना की पाना देवी, थपलियालगांव के देवसिंह नें विकलांग पेंशन की शिकायत उठाई। इसके अलावा भूमि प्रतिकर और कई मामले भी तहसील दिवस में छाए रहे। इस मौके पर सीएमओ डा. भागरथी जंगपांगी, एसडीएम लक्ष्मीराज चौहान, डीडीओ आनंद भाकुनी, सीएओ जेपी तिवारी, समाज कल्याण अधिकारी अनिल कुमार सैनी, डीएसओ मुकेश और सेवायोजन अधिकारी विक्रम समेत कई अधिकारी मौजूद रहे। इसके बाद डीएम ने चाका बाजार में प्रशांत विश्वास नाम के व्यक्ति की ओर से अवैध रूप से संचालित अस्पताल का निरीक्षण किया। डीएम ने पाया कि वहां पर मेडिकल स्टोर में प्रतिबंधित दवाईयां बेची जा रही है जो गैर कानूनी हैं। डीएम ने एसडीएम को अस्पताल सीज करने के निर्देश दिए। वहीं उन्होंने चाका के राजकीय महिला चिकित्सालय का भी निरीक्षण का कर्मियों को जरूरी निर्देश दिए। उन्होंने रेबीज के इंजेक्शन सहित दवाईयों के स्टॉक की जानकारी भी ली।

Spread the love