आदर्श इंटर कॉलेज अखोडी के छात्रों और स्टाफ के द्वारा एक अभिनव पहल ।

(सम्पादक पवन नैथानी ई मीडिया उत्तराखंड)

टिहरी घनसाली।जहाँ प्रदेश के विभिन्न संगठनों ने अगले साल जनवरी से देशभर के साथ उत्तराखंड के 74 शहरों में होने वाले स्वच्छ सर्वे में भागीदारी करने का संकल्प लिया है।
वहीं आदर्श इंटर कॉलेज अखोडी में भी छात्रों ने सुबह राजकीय इंटर कॉलेज अखोडी से तीन किलोमीटर पैदल चलकर सामुहिक रैली निकाल कर स्वच्छ उत्तराखंड-स्वच्छ भारत विषय में अपने भाषणों और सुलोगनों के माध्यम से गाँव-गाँव तक पेदल चलकर लोगों को स्वच्छता के प्रति जागरूक किया इस बीच स्वच्छता अभियान की सुरुआत प्रधानाचार्य श्री बेली राम गोदियाल ने प्रजेंटेशन के माध्यम से सुरु की और छात्रों को स्वच्छ सर्वे के विभिन्न पहलुओं को समझाया। हम किस प्रकार से उत्तराखंड के 74 शहरों और नगरों में किस तरह से हम एक आम नागरिक के रूप में इस अभियान में राज्य को अच्छे मार्क्स दिलाने के लिए कार्य कर सकते हैं, इस पर भी उन्होंने विस्तार से बातचीत की। उन्होंने गाँव में बरसात के कारण जलभराव, कूड़े के ढेरों, कूूड़ा निस्तारण की स्थिति मेडिकल वेस्ट, प्लास्टिक वेस्ट और ई-वेस्ट जैसी समस्याओं के बारे में छात्रों को बताया। पिछले दो स्वच्छ सर्वेक्षणों में उत्तराखंड के प्रदर्शन पर चिन्ता व्यक्त करते हुए उन्होंने अपने स्टाफ एवं व्यापार मंडल गोदाधार के युवाओं का आह्वान किया कि वे कैसे स्कूल और अपने आसपास कैसे साफ-सुथरा बनाने में योगदान करें।

इस बीच सामाजिक कार्यकर्ता और राजकीय इंटर कॉलेज अखोडी के अभिभावक संघ के अध्यक्ष विक्रम घणाता ने सफाई के प्रति आम लोगों को जागरूक करने की जरूरत पर बल दिया। उन्होंने कहा कि सभी विद्यालयों में इस तरह के कार्यक्रम आयोजित होने चाहिए और आम लोगों को इसप्रकार के अभियान से जोड़ने का प्रयास किया जाना चाहिए। इसके लिए उन्होंने सोशल मीडिया का भी भरपूर इस्तेमाल करने की सलाह दी। विक्रम घणाता ने कहा कि सफाई के लिए सरकारी स्तर पर पैसा तो काफी दिया जाता है, लेकिन आमतौर पर इस पैसे का समुचित इस्तेमाल नहीं हो पाता।
साथ ही स्वच्छता को अभियान नहीं, बल्कि आंदोलन के रूप में लेने की जरूरत है। शिक्षक संघ हमेशा इस दिशा में प्रयासरत है और हरसंभव सहायता करने के लिए तैयार है।

Spread the love

You may have missed