दूर आंध्रप्रदेश में रहते हुए भी समाज सेवी बच्चन सिंह रावत को अपने लोगों की पीड़ा है,

दूर आंध्रप्रदेश में रहते हुए भी समाज सेवी बच्चन सिंह रावत को अपने लोगों की पीड़ा है,अपने इलाके के लोगों को किसी चीज की कमी ना हो वह सदैव तत्पर रहते हैं।टिहरी जिले के सुदूर गाँव पिंसवड में उन्होंने करीब 150 लोगों तक राशन सामग्री उपलब्ध कराई है ग्रामीण उनका तहेदिल से धन्यवाद देते हैं, उन्होंने अपने सहयोगियों के साथ इस दूरस्थ इलाके में कुछ दिनों का राशन मुहोया कराया है श्री बच्चन सिंह रावत से हुवी फोनो बातचीत में उन्होंने कहा है कि इस दुविधा की घड़ी में वह सदैव अपने लोगों के साथ खड़े रहेंगे।रावत कई सामाजिक कार्यों में अपनी भागीदारी निभाते रहते हैं,शिक्षा के क्षेत्र में उत्कृष्ट प्रदर्शन करने वालों का वह मनोबल बढाते हैं और बच्चों को प्रतिवर्ष लैपटॉप देकर सम्मानित करते हैं, रावत के सामाजिक कार्यों पर क्षेत्र के लोगों ने गर्व महसूस किया है क्षेत्र के लोग उनकी दीर्घायु होने की कामना करते हैं । टिहरी गढ़वाल में रावत की सहयोगी रही लोक गायिका बिना बोरा का भी अहम योगदान रहा है, सुदूर गंगी गेंवाली और पिंसवड जैसे गाँव में पहुंच कर राशन वितरित की है। श्रीमती बिना बोरा नें कहा कि बच्चन सिंह रावत जी के सहयोग के कारण उन्हें ग्रामीण समाज की स्थिति को बहुत करीब से देखने का अनुभव हुवा है उन्होंने कहा है कि पर्वतीय क्षेत्रों का जीवन आज भी अभावों भरा है खासकर यहाँ की महिलाओं का जहां सबसे ज्यादा दिकतें स्वास्थ्य शुविधाओं की हैं इन महिलाओं के कष्टप्रद जीवन को बेहतर बनाने के लिए सरकार और सभी सामाजिक संगठनों के आगे आने की आवश्यकता है।

Spread the love